बीपीएससी (Bpsc) में कौन कौन सी पोस्ट होती है | BPSC Me Kon Kon Si Post Hoti Hai

बीपीएससी (Bpsc) में कौन कौन सू पोस्ट होती है | BPSC Me Kon Kon Si Post Hoti Hai क्या दोस्तों आप जानते हैं? अगर नहीं तो कोई बात नहीं क्योंकि इस लेख के माध्यम से हम चर्चा करने वाले हैं कि बीपीएससी (Bpsc) में कौन कौन सी पोस्ट होते है (BPSC Me Kon Kon Si Post Hoti Hai) इसी के बारे में विस्तार से जानकारी प्राप्त करने वाले हैं।

बीपीएससी (Bpsc) में कौन कौन सी पोस्ट होती है | BPSC Me Kon Kon Si Post Hoti Hai
बीपीएससी (Bpsc) में कौन कौन सी पोस्ट होती है | BPSC Me Kon Kon Si Post Hoti Hai

जैसे कि हम सभी लोग जानते हैं कि अक्सर विद्यार्थियों का सपना होता है सरकारी ऑफिसर बनने का तो मैं आप लोगों को बता दूं कि सरकारी ऑफिसर बनने क्या 2 तरीके होते हैं पहला है लोक सेवा आयोग (UPSC) एवं दूसरा है राज्य लोक सेवा आयोग (State PCS) पास करने के बाद सरकारी ऑफिसर बन सकते हैं।

इस लेख में स्पेशल बात करने वाले हैं बिहार राज्य के बारे में सबसे पहले ली चलिए जानते हैं कि बीपीएससी क्या है? (BPSC Kya Hai) जिसका फुल फॉर्म होता है Bihar Public Service Commission होता हैं। यह एक राज्य स्तरीय प्रतियोगिता परीक्षा है जो कि बिहार लोक सेवा आयोग द्वारा राज्य के अंतर्गत विभिन्न प्रशासनिक पदों के लिए भर्ती कराई जाती है।

आइए अब जानेंगे कि बीपीएससी (Bpsc) में कौन कौन सी पोस्ट होती है (BPSC Post List In Hindi)

बीपीएससी (Bpsc) में कौन कौन सी पोस्ट होती है (BPSC Me Kon Kon Si Post Hoti Hai)

  1. ASI (एएसआई)
  2. Assistant Operators (सहायक ऑपरेटर)
  3. Assistant Engineer (सहायक अभियंता)
  4. Assistant Superintendent- Jail (सहायक अधीक्षक- जेल)
  5. Anchal Padadhikari (आंचल पदाधिकारी)
  6. Block Minority welfare officer (ब्लॉक अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी)
  7. Deputy Superintendent of Police
  8. District President
  9. Food and Supply Inspector
  10. Excise Inspector
  11. Inspector rank officers
  12. Minority Welfare Officer 
  13. Police Constable
  14. Prisoner, Prison and Correctional Services Inspectorate
  15. Planning Officer / District Planning Officer (Gazetted)
  16. Range Officer (Forest Department)
  17. Revenue Officer
  18. Sub Divisional Magistrate (SDM)
  19. Etc……………

Must Read :- पीसीएस (PCS) में कौन कौन सी पोस्ट होती है?

BPSC का फुल फॉर्म क्या है? (BPSC Full Form In Hindi)

UPSC के बाद सबसे कठिन परीक्षाओं में एक है State PCS आज हम जिसके बारे में बात करने वाले हैं वो है बीपीएससी (BPSC) इस का फुल फॉर्म होता है:-

  • B – Bihar
  • P – Public
  • S – Service
  • C – Commission

अर्थात, BPSC का फुल फॉर्म होता है (BPSC Full Form In Hindi) Bihar Public Service Commission BPSC यानी कि बिहार लोक सेवा आयोग।

BPSC से क्या बनते है? (BPSC Post Details in hindi)

1. Bihar Administrative Service (बिहार प्रशासनिक सेवा)

Bihar Administrative Service ये BPSC के अंदर आने वाली सबसे बड़ी पोस्टों में से एक है, इसमें ऑफिसर बनने के बाद जिलों के अंदर में काम करना पड़ता है यह जो पोस्ट है कलेक्टर से नीचे का पोस्ट है। आपलोगों को बता दूं कि जब इस पोस्ट से प्रमोशन होती है तब सीधे कलेक्टर बन सकते हैं। 

इसमें काम काफी चुनौती वाले या कठिन होते हैं इसमें नौकरी दिन में या रात में कभी भी हो सकती है। यह पद काफी लोकप्रिय पद है अक्सर विद्यार्थियां इस पोस्ट पर जॉब करना चाहते हैं।

2. Bihar Police Service

अगर आपलोगों को वर्दी का जॉब पसंद है तो यह पद बहुत ही बढ़िया है। ये दूसरा सबसे पसंदीदा पोस्टों में से एक है जैसे की हम सभी लोग जानते हैं कि आज के समय पर पुलिस की पद का मांग बहुत ही अधिक है आज के समय पर अक्सर विद्यार्थियों का मान वर्दी का होता है ताकि वह समाज का सेवा कर पाए और अधिक से अधिक इज्जत कमा सकें। 

यह पोस्ट रिस्पेक्ट वाला पर होता है इसमें व्यक्ति को डीएसपी यानी कि अधिक रेस्पेक्ट वाला पद माना जाता है। इसमें व्यक्ति को Deputy Superintendent of Police (DSP) का पोस्ट मिलता हैं। 

3. Rural Development Officer

जैसे कि हम सभी लोग जानते हैं कि आज के समय पर हमारे देश कि सरकार ग्रामीण क्षेत्रों को विकसित करने के लिए तरह-तरह के योजना चला रहे हैं ताकि गांव को कितनी जल्दी विकास किया जाए अगर आप भी समाज सेवा करना चाहते हैं तो रूलर डेवलपमेंट ऑफिसर बन कर गांव, कस्बों या शहरों का विकास कर सकते हैं। 

अगर आपको लगता है कि ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों की लोगों की जिंदगी में बदलाव लाना जरूरी है या बदलाव लाना चाहते हैं तो यह नौकरी है। इसमें ऑफिसर बनने के बाद उसका कार्य करना पड़ता है सरकार के द्वारा चलाई गई योजनाओं को ग्रामीणों तक पहुंचाने का काम होता है यानी कि उस योजना का लाभ ग्राम वासियों तक पहुंचाने कार्य होता है।

4. District Minority Welfare Officer

District Minority Welfare Officer पोस्ट को बनाने का मुख्य उद्देश्य यह है कि समाज के सभी वर्गों तो विकास पहुंचा पाए इसलिए सरकार ने इस पोस्ट को बनाए हैं सरकार का दायित्व और कर्तव्य है कि समाज को विकास की गति की ओर बढ़ाया जाए। 

इसमें कार्य जिले में नीचे समाज के लोगों को विकसित कराने के लिए सरकार के द्वारा चलाई गई योजनाओं को इन समाजों में चलाने या बनाने का काम होता है। इन समुदायों के लिए सरकार द्वारा बनाए गए योजनाओं का अनुपालन करना पड़ता है। 

आपलोगों को एक बात मैं बता दूं कि इस पोस्ट में नौकरी करना चाहते हैं तो किसी जाति या धर्म से होना जरूरी नहीं यानी कि आप किसी भी जाति या धर्म के हो सकते हैं समाज के लिए सभी वर्गों का ध्यान दे सकते हैं‌।

5. Bihar Financial Service

अगर आप एक आरामदायक वाली नौकरी करना चाहते हैं तो आपके लिए यह पोस्ट बहुत ही बढ़िया है। इसमें पद की नियुक्ति की जाती है अगर काम की बात किया जाए तो कार्य सरकार के लिए टैक्स को जुटाना और उसके आंकड़े को तैयार करना होता है। इस पद की बहुत ही अच्छी बात यह है कि इसमें ज्यादातर ऑफिस के टाइम पर ही काम करना पड़ता है एवं 2 दिन की छुट्टी भी मिलती है। 

6. Product Inspector

प्रोडक्ट इंस्पेक्टर का काम होता है जो भी प्रोडक्ट बनते हैं या तो बिकते हैं यानी कि जो भी समान बाहर से आता है उसकी जांच करना होता है और उस समान को पास करना पड़ता है ताकि राज्य सरकार की बहुत सी कंपनी प्रोडक्ट भी बनाती है उसमें समान या माल को चेक भी करना पड़ता है उस प्रोडक्ट की गुणवत्ता की जांच करना पड़ता है यह सारे प्रोडक्ट इंस्पेक्टर का काम होता है यह इसमें भी ऑफिस के टाइम पर ही ड्यूटी करना पड़ता है और महीने में छुट्टी का भी प्रावधान है।

7. Sugarcane Officer

जैसे की हम सभी लोग जानते हैं कि बिहार में गन्ना उत्पादन का एक बड़ा बेवफा है जो कि यहां के लोग गन्ने की खेती करते हैं एवं सरकार एवं इंडस्ट्री को इस उत्पादन से बहुत फायदे भी मिलते हैं। 

इसी वजह से सरकार ने इसके लिए प्रत्येक जिलों में एक डिपार्टमेंट बनाया जाए जिसका कार्य चीनी उत्पादन या गन्ना उत्पादन एवं इससे जुड़े उद्योगों को विकसित करना होता है। और इस उद्योग से संबंधित लोगों की समस्याओं को सुनकर तथा उन समस्याओं का समाधान करना पड़ता है।

8. Employment Officer

Employment Officer का काम होता है केंद्र और राज्य के लिए रोजगार का डाटा बनाना यानी कि अगर बेरोजगारों के लिए कोई भी सरकारी योजना है तो उसे सही तरीके से अनुपालन कराना Employment Officer का काम होता है।

आज के समय पर हमारे देश में बेरोजगारी की समस्या सबसे बड़ी समस्या में से एक है इसके लिए सरकार के द्वारा एक एंप्लॉयमेंट ऑफिसर बनाती हैं, इसका काम अपने कार्य क्षेत्र में बेरोजगारों की सूची को तैयार करना एवं उनके लिए रोजगार का अवसर प्रदान करना होता है।

9. Bihar Labour Services

अगर आप लोग गरीब मजदूरों के लिए मदद करना चाहते हैं तो इस पोस्ट के लिए जरूर आवेदन करना चाहिए। जैसे कि हम सभी लोग जानते हैं और राज्यों के अंदर कई तरह की फैक्ट्री कार्य करती है जिसमें हजारों मजदूर काम करते हैं। 

बिहार लेबर सर्विसेज यह पोस्ट उन के लिए बनाए गए हैं कि मजदूरों या श्रमिकों के प्रोटेक्शन के लिए ताकि इसमें मुख्य तौर पर कार्य एरिया के मजदूरों की किसी प्रकार की परेशानी को सुनना एवं उनकी समस्याओं को हल करना है।

इसे अवश्य पढ़ें:-

बीपीएससी का वेतन कितना है?

बीपीएससी अधिकारियों का मूल वेतन कि बात किया जाए तो लगभग 42,900 /- रुपए प्रतिमाह है। इसके साथ ही HRA एवं DA जैसे अन्य अनुलाभों के अतिरिक्त होता है। आपलोगों को बता दूं कि पहले वर्ष बीपीएससी कि अधिकारी बनने के बाद कोई भी महंगाई भत्ता नहीं दिया जाता हैं।

बीपीएससी वेतन भत्ता 2022

वेतन के साथ, चयनित उम्मीदवारों को विभिन्न भत्ते भी प्रदान किए जाते हैं। भत्ते में से कुछ हैं:

  • महंगाई भत्ता (डीए)
  • परिवहन भत्ता (टीए)
  • मकान किराया भत्ता (एचआरए)

बीपीएससी अधिकारियों के करियर की शुरुआत में, उनके लिए महंगाई भत्ता (डीए) 0% है और यह समय के साथ बढ़ता जाएगा।

Must Read :- लड़कियों के लिए सरकारी नौकरियां 

बीपीएससी वेतन भत्ते और लाभ 2022

मूल वेतन और भत्तों के अलावा, बीपीएससी अधिकारियों को कई अन्य लाभ प्रदान किए जाते हैं, जिनका उल्लेख नीचे किया गया है:

  • सुरक्षा: बीपीएससी अधिकारियों को आमतौर पर सुरक्षा गार्ड प्रदान किए जाते हैं क्योंकि उनका काम चुनौतीपूर्ण प्रकृति का होता है। कई बार उन्हें सुरक्षा बल भी दिए जाते हैं।
  • परिवहन: बीपीएससी अधिकारियों को अपने लिए आधिकारिक उद्देश्यों के लिए वाहन आवंटित किए जाते हैं।
  • सब्सिडी वाले बिल: उन्हें बिजली, पानी, फोन और गैस कनेक्शन के सब्सिडी वाले बिल देने की सुविधा भी दी जाती है।
  • यात्राएं: बीपीएससी अधिकारी अपनी यात्राओं में राज्य भवन का उपयोग कर सकते हैं। उन्हें अन्य राज्यों का दौरा करने के बाद सरकारी गेस्ट हाउसों में रियायती आवास भुगतान की सुविधा भी मिलेगी।
  • नौकरी की सुरक्षा: उन्हें उच्च नौकरी की सुरक्षा प्रदान की जाती है क्योंकि उन्हें आसानी से निकाल नहीं दिया जाएगा, अधिकारी को हटाने की प्रक्रिया लंबी है और इसके लिए जांच की भी आवश्यकता है।
  • सेवानिवृत्ति के बाद लाभ: उन्हें विभिन्न आयोगों में नियुक्त किया जाता है। उन्हें आजीवन पेंशन और सेवानिवृत्ति लाभ जैसे कई अन्य लाभ भी दिए जाते हैं।

Also Reads:- 

बीपीएससी में आयु सीमा क्या है? (BPSC age limit kya hai)

उम्मीदवार की आयु सीमा 21 – 37 वर्ष के अंदर होनी चाहिए। OBC कैटेगरी के लिए 3 साल, SC और ST के लिए 5 साल की छूट दी जाती है अनारक्षित महिलाओं के लिए 3 वर्ष की छूट प्रदान की जाती है।

बीपीएससी के लिए योग्यता क्या है? (BPSC ke liye yogyata kya hai)

बीपीएससी के लिए योग्यता क्या है? (BPSC ke liye yogyata kya hai)– अगर दोस्तों बीपीएससी परीक्षा के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो आपको सबसे पहले 12वीं कक्षा पास करनी होगी उसके बाद किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक की डिग्री होना अनिवार्य है।

बीपीएससी जॉब प्रोफाइल और जिम्मेदारियां 2022 (BPSC rank wise post list)

BPSC परीक्षा विभिन्न नौकरी भूमिकाओं और जिम्मेदारियों के साथ एक प्रशासनिक नौकरी प्रदान करती है। चयनित उम्मीदवारों को बिहार सरकार के विभिन्न प्रशासनिक विभागों में भर्ती किया जाता है। विभागों के नाम नीचे उल्लिखित हैं:

  • गृह विभाग (रिजर्व शाखा)
  • गृह विभाग (विशेष शाखा)
  • गृह विभाग
  • वाणिज्य – कर विभाग
  • चुनाव विभाग
  • श्रम संसाधन विभाग
  • गन्ना उद्योग विभाग
  • परिवहन विभाग
  • श्रम संसाधन विभाग
  • राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग
  • पंचायती राज विभाग
  • अल्पसंख्यक कल्याण विभाग
  • नगर विकास एवं आवास विभाग
  • उपभोक्ता संरक्षण विभाग

FAQ’S :- बीपीएससी (Bpsc) में कौन कौन सी पोस्ट होती है | BPSC Me Kon Kon Si Post Hoti Hai

Q 1. BPSC फुल फॉर्म क्या है?

BPSC जिसका Full Form Bihar Public Service Commission है।

Q 2. बीपीएससी एग्जाम कितने नंबर का होता है?

हर पेपर 300-300 अंक के होते हैं।

Q 3. बीपीएससी परीक्षा कितने पेज में होते हैं?

1. Prelims
2. Mains
3. Interview

बीपीएससी (Bpsc) में कौन कौन सी पोस्ट होती है | BPSC Me Kon Kon Si Post Hoti Hai

बीपीएससी (Bpsc) में कौन कौन सी पोस्ट होती है | BPSC Me Kon Kon Si Post Hoti Hai

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *